राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम (एनसीएपी) का शुभारंभ

केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री हर्षवर्धन ने 10 जनवरी, 2019 को नई दिल्ली में राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम (एनसीएपी) का शुभारंभ किया। यह एक समयबद्ध राष्ट्रीय स्तरीय कार्यक्रम (National Clean Air Programme: NCAP) है जिसका क्रियान्वयन अखिल भारतीय स्तर पर किया जाएगा। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य Read More …

पंजाब के पेयजल में मिला यूरेनियम का गंभीर स्तर 

उमाशंकर मिश्र  (Twitter handle : @usm_1984) नई दिल्ली, 9 जनवरी : भारतीय वैज्ञानिकों के ताजा अध्ययन में पंजाब के मालवा क्षेत्र के भूजल में यूरेनियम का गंभीर स्तर पाया गया है। पेयजल के 24 प्रतिशत नमूनों में यूरेनियम की मात्रा विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के निर्धारित मापदंड से अधिक पायी Read More …

रेलवे अन्य क्षेत्रों में भी लागू करेगा मधुमक्खी ध्वनि प्रणाली

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि हाथियों को रेल पटरियों से दूर रखने के लिए असम में लागू की गई मधुमक्‍खी ध्‍वनि प्रणाली योजना का देश के अन्‍य क्षेत्रों में विस्‍तार किया जाएगा। श्री गोयल ने कहा कि यह प्रणाली  वर्ष 2017  में प्रयोग के तौर पर शुरू की Read More …

भारत ने जैव विविधता सम्‍मेलन (सीबीडी) को छठी राष्‍ट्रीय रिपोर्ट प्रस्‍तुत की

भारत ने 29 दिसंबर, 2018 को जैव विविधता सम्‍मेलन (सीबीडी) को अपनी छठी राष्‍ट्रीय रिपोर्ट (एनआर6) प्रस्‍तुत की। यह रिपोर्ट पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (एमओईएफसीसी), नई दिल्‍ली में राष्‍ट्रीय जैव विविधता प्राधिकरण (एनबीए) द्वारा आयोजित राज्‍य जैव विविधता बोर्डों (एसबीबी) की 13वीं राष्‍ट्रीय बैठक के उद्घाटन सत्र के Read More …

तटीय नियमन जोन (सीआरजेड) अधिसूचना, 2018 को मंजूरी

 केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 28 दिसंबर, 2018 को तटीय नियमन जोन (सीआरजेड) अधिसूचना, 2018 को मंजूरी दे दी है जिसकी पिछली समीक्षा वर्ष 2011 में की गई थी और फिर उसी वर्ष इसे जारी भी किया गया था। समय-समय पर इसके कुछ अनुच्‍छेदों में संशोधन भी किए जाते रहे हैं। सीआरजेड Read More …

बाहुदा रूकरी-ओडिशा में ओलिव रिडले की दूसरी मास नेस्टिंग साइट

ओडिशा का वन विभाग अपने वन्यजीव मानचित्र पर ओलिव रिडले कछुआ के लिए मास नेस्टिंग साइट की एक अन्य जगह का विकास कर रहा है। वन विभाग संकटापन्न कछुआ प्रजाति की नेस्टिंग के लिए गंजाम जिला में बाहुदा नदी का मुहाना विकसित कर रहा है जो वर्ष 2019 से ओलिव Read More …

हिमालयन मर्मोट का जीनोम अनुक्रमण में सफलता

वैज्ञानिकों ने हिमालयन मर्मोट (Himalayan marmots) के जीनोम का अनुक्रमण (sequence) कर लिया है। जीनोम विश्लेषण से यह पता चल सकेगा कि गहन सर्दी, अत्यल्प ऑक्सीजन और प्रतिकूल परिस्थिति में भी यह जीव कैसे जीवित रह पाता है। हिमालयन मर्मोट भारत, नेपाल और पाकिस्तान के हिमालयी क्षेत्र में 5000 मीटर Read More …

केंद्र सरकार द्वारा ‘एशियाई शेर संरक्षण परियोजना’ का शुभारंभ

केन्द्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने मुक्त रूप से विचरण करने वाले एशियाटिक शेर की अंतिम आबादी व उसके पारिस्थितिक तंत्र की सुरक्षा एवं संरक्षण के उद्देश्य से “एशियाई शेर संरक्षण परियोजना” (The Asiatic Lion Conservation Project) शुरू की है। “एशियाई शेर संरक्षण परियोजना” एशियाई शेर के संरक्षण Read More …

जलवायु परिवर्तन पर 24वां सम्मेलन (कोप 24) कैटोवाइस में आयोजित

जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र संरचना सन्धिपत्र (सीओपी 24) (Conference of the Parties to the United Nations Framework Convention on Climate Change: COP 24) के पार्टियों के सम्मेलन का 24वां सत्र  2 से 15 दिसम्बर, 2018 तक पोलैंड के काटोवाइस में आयोजित किया गया। यह सम्मेलन एक प्रमुख सम्मेलन था Read More …

वैज्ञानिकों को मिले जलीय तंत्र में संतुलन बनाए रखने वाले वायरस

शुभ्रता मिश्रा (Twitter handle : @shubhrataravi) वास्को-द-गामा (गोवा): भारतीय वैज्ञानिकों ने विभिन्न जलीय पारिस्थितिकीतंत्र में पाए जाने वाले वायरसों की गणना की है। राष्ट्रीय समुद्रविज्ञान संस्थान (एनआईओ) और गोवा विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों द्वारा किए गए अध्ययन में ताजे पानी के जलस्रोतों और समुद्री जल में वायरसों की प्रचुर मात्रा मिली Read More …

नेशनल पार्क के आसपास के 10 किलोमीटर क्षेत्र को इको-सेंसिटिव घोषित करने का निर्देश

सर्वोच्च न्यायालय ने एक याचिका पर सुनवाई करते हुए 11 दिसंबर, 2018 को आदेश दिया कि देश के 21 राष्ट्रीय उद्यानों व वन्यजीव अभ्यारण्यों के आसपास के 10 किलोमीटर क्षेत्र को इको-सेंसिटिव घोषित करने का आदेश दिया है। न्यायमूर्ति मदन बी. लोकुर की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने एमिकस क्युरी द्वारा Read More …

बढ़ती बीमारियों के लिए तंबाकू से अधिक जिम्मेदार है वायु प्रदूषण

उमाशंकर मिश्र (Twitter handle : @usm_1984) नई दिल्ली, 6 दिसंबर  : भारतीय शोधकर्ताओं के एक ताजा अध्ययन में बीमारियों को बढ़ावा देने और असमय मौतों के लिए वायु प्रदूषण को तंबाकू उपभोग से भी अधिक जिम्मेदार पाया गया है। विश्व की 18 प्रतिशत आबादी भारत में रहती है, जिसमें से Read More …

विश्व बैंक द्वारा 2021-25 के लिए 200 अरब डॉलर जलवायु कार्रवाई निवेश की घोषणा

विश्व बैंक ने वर्ष 2021-25 के लिए जलवायु परिवर्तन कार्रवाई निवेश (climate action investment for 2021 to 2025) के तहत 200 अरब डॉलर की घोषणा की है। विश्व बैंक की घोषणा पोलैंड के कैटोवाइस में जलवायु परिवर्तन पर यूएनएफसीसीसी के 24वें कोप सम्मेलन के आलोक में की गई। विश्व बैंक Read More …

अंडमान-निकोबार में भारत की 10 प्रतिशत जंतु प्रजातियां

जूलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया द्वारा ‘जैवभौगोलिक जोन की जंतु विविधता-भारत के द्वीप’ शीर्षक से जारी रिपोर्ट में पहली बार अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में पाई जाने वाली सभी प्रजातियों की डेटाबेस प्रकाशित की गई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में कुल 11,009 जंतु प्रजातियां पाई जाती हैं। रिपोर्ट Read More …

वैज्ञानिकों ने खोजी भारत में पाढ़ा की दुर्लभ प्रजाति 

उमाशंकर मिश्र (Twitter handle : @usm) नई दिल्ली, 26 नवंबर (इंडिया साइंस वायर) : भारतीय वैज्ञानिकों ने भारत में पाढ़ा (हॉग हिरन) की दुर्लभ उप-प्रजातियों में शामिल एक्सिसपोर्सिनसएनामिटिकस की मौजूदगी का पता लगाया है। इससे पहले तक माना जाता रहा है कि हिरन की यह संकटग्रस्त प्रजाति मध्य थाईलैंडकेपूर्वी हिस्सेतक Read More …

वर्ष 2017 में ग्रीनहाउस गैस सर्वोत्तम स्तर पर -संयुक्त राष्ट्र संघ

संयुक्त राष्ट्र संघ के अनुसार वायुमंडल में ग्रीनहाउस गैसें, जो कि जलवायु परिवर्तन के लिए मुख्य रूप से उत्तरदायी हैं, रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है। विश्व मौसम विज्ञान संगठन के महानिदेशक पेट्टेरी तालस के अनुसार कार्बन डाई ऑक्साइड सहित अन्य ग्रीन हाउस गैसों में बिना त्वरित कटौती के जलवायु Read More …

भारत में ओर्टोलान बंटिंग की पहली तस्वीर

   Ortolan Bunting (Photo credit: Wikimedia commons) पक्षी की तस्वीर लेने वाले मंगलुरू के के. विवेक नायक ने ‘ओर्टोलैन बंटिंग’ (Ortolan Bunting) नामक पक्षी की तस्वीर सोशल मीडिया पर जारी की है जिसे भारत में इस पक्षी की पहली तस्वीर कहा जा रहा है। यह पक्षी मंगोलिया से यूरोप तक Read More …

वन्यजीव अपराध नियंत्रण ब्यूरो को एशिया पर्यावरण प्रवर्तन पुरस्कार, 2018

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण ने सीमापार से होने वाले पर्यावरण संबंधी अपराधों से निपटने में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के वन्यजीव अपराध नियंत्रण ब्यूरो (डब्ल्यूसीसीबी) द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्य के लिए ब्यूरो को एशिया पर्यावरण प्रवर्तन पुरस्कार, 2018 (Asia Environment Enforcement Awards, 2018) से सम्मानित किया है। ब्यूरो Read More …

हाथी गलियारा को इको-सेंसिटिव जोन घोषित करने का आदेश

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय को देश के सभी हाथी गलियारा को (elephant corridors) इको सेंसिटिव जोन घोषित करने हेतु विचार करने को कहा है। असम में हाथी अभ्यारण्य एवं गलियारों को विधिक मान्यता हेतु दायर याचिका पर एनजीटी के अध्यक्ष न्यायमूर्ति आदर्श कुमार Read More …

केरल के चिन्नार वन्यजीव अभ्यारण्य में पहली बार श्रीलंकाई फ्रॉगमाउथ पक्षी

श्रीलंकाई फ्रॉगमाउथ पक्षी प्रजाति को चिन्नार वन्यजीव अभ्यारण्य (Chinnar Wildlife Sanctuary) में देखा गया है। इससे पक्षीविज्ञानी काफी आश्चर्य चकित हैं। अब तक श्रीलंकाई फ्रॉगमाउथ, बात्रकोस्टोमस मोनोलाइगर (Sri Lankan Frogmouth, Batrachostomus moniliger) को पश्चिमी घाट के पश्चिमी हिस्सा में ही देखा जाता रहा है किंतु पहली बार इसे पश्चिमी घाट Read More …