प्राकृतिक रेशों से कंपोजिट प्लास्टिक बनाने की नई विधि विकसित

उमाशंकर मिश्र (Twitter handle : @usm_1984) नई दिल्ली, 6 मार्च (इंडिया साइंस वायर) : बढ़ती पर्यावरणीय चुनौतियों को देखते हुए दुनियाभर में ईको-फ्रेंडली पदार्थों के विकास पर जोर दिया जा रहा है। भारतीय शोधकर्ताओं ने अब जूट और पटसन जैसे प्राकृतिक रेशों के उपयोग से पर्यावरण अनुकूल कंपोजिट प्लास्टिक का Read More …

रक्तचाप और मधुमेह नियंत्रण में मददगार हो सकता है नया मोबाइल टूल

शुभ्रता मिश्रा (Twitter handle: @shubhrataravi)   वास्को-द-गामा (गोवा), 5 मार्च, (इंडिया साइंस वायर): भारतीय शोधकर्ताओं ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और ऑटोमेशन आधारित नई तकनीक विकसित की है, जिसके उपयोग से रक्तचाप और मधुमेह की पहचान तथा नियंत्रण में मदद मिल सकती है। इस मोबाइल आधारित टूल को हैदराबाद स्थित मेडिसिटी इंस्टिट्यूट Read More …

सरिस्का से कर सकेंगे अंतरिक्ष का दीदार

उमाशंकर मिश्र (Twitter handle : @usm_1984) अलवर, 5 मार्च (इंडिया साइंस वायर): शहरों में वायु और प्रकाश प्रदूषण की वजह से रात में आसमान में सितारों को देखना कठिन हो गया है। इसीलिए वैज्ञानिकों द्वारा उपयोग की जाने वाली वेधशालाएं दूरदराज के क्षेत्रों में स्थापित की गई हैं। दूर होने Read More …

इसरो ने ‘युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम’ (युविका) कार्यक्रम शुरू किया

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने इस वर्ष से स्कूली बच्चों के लिए “युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम”  (युविका-YUva VIgyani KAryakram) नामक एक विशेष कार्यक्रम शुरू किया है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य मुख्य रूप से अंतरिक्ष कार्यकलापों के उभरते क्षेत्रों में अपनी रुचि जगाने के इरादे से युवाओं को अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष Read More …

श्रीपद नाईक ने गाजियाबाद में राष्ट्रीय यूनानी चिकित्सा संस्थान की आधारशिला रखी

केन्‍द्रीय आयुष (स्वतंत्र प्रभार) श्री श्रीपद येसो नाईक ने 1 मार्च, 2019 को गाजियाबाद में राष्‍ट्रीय यूनानी चिकिस्ता संस्‍थान (एनआईयूएम) की आधारशिला रखी।   आयुष मंत्रालय गाजियाबाद में एनआईयूएम की स्थापना यूनानी चिकित्सा और आयुष की अन्य प्रणालियों के जरिए गुणवत्तायुक्त चिकित्सा शिक्षा, अनुसंधान और स्वास्थ्य सेवाओं को बढ़ावा देने की Read More …

आईआईटी शोधकर्ताओं ने नेत्रहीनों के लिए बनायाब्रेल लैपटॉप

उमाशंकर मिश्र (Twitter handle :@usm_1984) नई दिल्ली, 28 फरवरी (इंडिया साइंस वायर): भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), दिल्ली के शोधकर्ताओं ने डॉटबुक नामक एक ऐसा ब्रेल लैपटॉप विकसित किया है, जो नेत्रहीनों के लिए उपयोगी हो सकता है। यह ब्रेल डिस्प्ले युक्त रिफ्रेशेबल लैपटॉप है, जिसमें नेत्रहीनों के अनुकूलईमेल, कैलकुलेटर औरवेब Read More …

देश में विकसित प्रथम ठोस प्रणोदक ‘मृणाल’ की 50वीं वर्षगांठ

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी ‘इसरो’ ने 27 फरवरी, 2019 को ‘मृणाल’ (Mrinal) का निर्माण करने वाले जीवित बचे वैज्ञानिकों को सम्मानित किया। इन्हें विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र तिरुवनंतपुरम के श्रीनिवास ऑडिटोरियम में सम्मानित किया गया जिसे इसरो के अध्यक्ष के. सिवन ने बंगलुरू से वीडियो के माध्यम से संबोधित Read More …

जैव प्रौद्योगिकी विभाग स्‍थापना दिवस के अवसर पर प्रमुख मिशनों की घोषणा

विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय में जैव प्रौद्योगिकी विभाग ने 26 फरवरी, 2019 को नई दिल्‍ली में अपना 33वां स्‍थापना दिवस मनाया, जिसकी विषय वस्‍तु “सेलीब्रेटिंग बायोटेक्‍नोलॉजी : बिल्डिंग इंडियन एज एन इनोवेशन नेशन” रखी गई थी। बीआरआईटीई (BRITE) पुरस्‍कार: इस अवसर पर केन्‍द्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने Read More …

हिप्पोकैंप-नेपच्यून का नया चंद्रमा की खोज

नासा के एमेस शोध केंद्र तथा सेती इंस्टीट्यूट एवं यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के शोधकर्ताओं की एक टीम ने नेपच्यून ग्रह के एक चंद्रमा की खोज की है। इसे यूनानी मिथकीय समुद्री जानवर के नाम पर ‘हिप्पोकैंप’ (Hippocamp) नाम दिया गया है। नासा के हब्बल टेलीस्कोप से इसे 2004-05, 2009 में Read More …

बीईएल ने एटमोस्फेरिक वाटर जनरेटर (एडब्ल्यूजी) का शुभारंभ किया

रक्षा मंत्रालय की नवरत्न कंपनी भारत इलेक्ट्रोनिक लिमिटेड (बीईएल) ने 21 फरवरी, 2019 को  एक नए उत्पाद एटमोस्फेरिक वाटर जनरेटर (एडब्ल्यूजी-BEL Launches Atmospheric Water Generator safe Drinking Water) का  एरो इंडिया 2019 में अनावरण किया । यह उत्पाद दुनिया में पेयजल की बढ़ती हुई जरूरत को पूरा करने के लिए Read More …

कैबिनेट ने राष्‍ट्रीय इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स नीति 2019 को स्‍वीकृति दी

केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने  19 फरवरी, 2019 को इले‍क्‍ट्रॉनिक्‍स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा प्रस्‍तावित राष्‍ट्रीय इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स नीति 2019 (एनपीई 2019-National Policy on Electronics 2019: NPE 2019) को अपनी स्‍वीकृति दे दी। इस नीति में चिपसेटों सहित महत्‍वपूर्ण घटकों को देश में विकसित करने की क्षमताओं को प्रोत्‍साहित कर और विश्‍व Read More …

देश भरके 60 नवाचारी छात्रों को इंस्पायर-मानक पुरस्कार

उमाशंकर मिश्र (Twitter handle : @usm_1984 ) नयी दिल्ली, 15 फरवरी (इंडिया साइंस वायर): देश के विभिन्न राज्यों से आये 800 से अधिक नवाचारी छात्र इन दिनों राजधानी दिल्ली में एकजुट हुए हैं। ये छात्र ‘इंस्पायर-मानक पुरस्कार’ योजना के तहत 7वीं राष्ट्रीय स्तरीय प्रदर्शनी एवं परियोजना प्रतियोगिता (एनएलईपीसी) में शामिल Read More …

अपरच्यूनिटी रोवर मिशन की समाप्तिः प्रमुख उपलब्धियां

नासा का ‘अपरच्यूनिटी’ (Opportunity) मंगल मिशन 15 वर्षों की सेवा के पश्चात समाप्त घोषित कर दिया गया। मंगल ग्रह पर धूल भरी आंधी की चपेट में आने के पश्चात जून 2018 में ही यह काम करना बंद कर दिया गया। तब से इसे पुनर्जीवित करने का प्रयास किया जा रहा Read More …

ई-कचरे से कीमती धातुएं निकालने की ईको-फ्रेंडली विधि विकसित

शुभ्रता मिश्रा (Twitter handle: @shubhrataravi) वास्को-द-गामा (गोवा), 12 फरवरी, (इंडिया साइंस वायर): पुराने हो चुके फोन, कंप्यूटर, प्रिंटर आदि का गलत तरीके से निपटारा पर्यावरण और मानव स्वास्थ्य के लिए एक बड़ी समस्या है। इन उपकरणों में सोना, चांदी और तांबे जैसी कई कीमती धातुएं होती हैं। इन धातुओं को Read More …

राष्ट्रीय कृमि मुक्त अभियान का 8वां चरण शुरू

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने 8 फ़रवरी 2019 से अपने राष्ट्रीय कृमि मुक्त अभियान का 8वां चरण (National Deworming Day (NDD) शुरू किया। इसका मुख्य उद्देश्य मिट्टी के संक्रमण से होने वाले एसटीएच रोग (Soil Transmitted Helminths-STH)) अर्थात् आंतों में परजीवी कृमि को खत्म करना है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के Read More …