मिलन 2018 नौसैनिक अभ्यास

  • भारतीय नौसना द्वारा 6-13 मार्च, 2018 के बीच अंडमान निकोबार द्वीप समूह के समीप समुद्र में ‘मिलन’ नौसैनिक अभ्यास का आयोजन किया जा रहा है।
  • इस नौसैनिक अभ्यास में 16 देश हिस्सा ले रहे हैं। 
  • थीमः वर्ष 2018 के मिलन नौसैनिक अभ्यास की थीम है ‘सामुद्रिक सुव्यवस्था की खोज-व्यापक सूचना साझेदारी की जरुरत’ (‘In Pursuit of Maritime Good Order – Need for Comprehensive Information Sharing Apparatus )। 
  • वहीं दूसरी ओर मालदीव ने आठ दिनों तक चलने वाले नौसैनिक अभ्यास ‘मिलन’ में शामिल होने का भारत का निमंत्रण ठुकरा दिया। 
  • ऐसा माना जा रहा है कि मालदीव के राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन ने 5 फरवरी को आपातकाल की घोषणा की थी जिसके बाद से भारत और मालदीव के संबंधों में तनाव है। भारत ने आपातकाल को एक महीने बढ़ाए जाने पर 21 फरवरी को कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। भारत में मालदीव के राजदूत अहमद मोहम्मद के अनुसार उनके देश की नौसेना इस अभ्यास में हिस्सा नहीं ले सकती क्योंकि मालदीव में आपातकाल लागू है। ऐसी स्थिति में देश के सुरक्षाकमियों से तैयारी के उच्चतम स्तर पर रहने की अपेक्षा की जाती है।
  • 1995 से आरंभ हुआ नौसैनिक अभ्यास दो वर्षों पर आयोजित किया जाता है। वर्ष 1995 में केवल चार देशों; इंडोनेशिया, सिंगापुर, श्रीलंका व थाईलैंड ने इसमें हिस्सा लिया था परंतु आज इसका काफी विस्तार हो चुका है। 

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *