जीएसएलवी-एफ08 से जीसैट-6ए का प्रक्षेपण

क्याः जीसैट-6ए
कबः 29 मार्च, 2018
कहांः श्रीहरिकोटा
किससेः जीएसएलवी-एफ06
किसनेः इसरो

  • भारत की भूतुल्यकालिक उपग्रह प्रक्षेपण यान (जीएसएलवी-एफ 08) ने 29 मार्च, 2019 को जीएसएटी -6 ए उपग्रह को जीओसिंक्रोनसस ट्रांसफर ऑर्बिट (जीटीओ) में सफलतापूर्वक प्रमोचित किया।
  • जीएसएलवी का यह बारहवीं उड़ान थी और इसे श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसडीएससी) यानी शार, की दूसरी लॉन्च पैड से प्रक्षेपित किया गयाा।
  • जीएसएलवी द्वारा स्वदेशी तौर पर विकसित क्रायोजेनिक ऊपरी स्टेज के प्रमोचन की यह लगातार पांचवीं सफलता है।
  • अपने अंडाकार कक्षा आकार वाले जीटीओ में, जीएएसएटी -6 ए अब पृथ्वी की परिक्रमा 169.4 किमी की पेरिजी (पृथ्वी के नजदीकी बिंदु) और 36,692.5 किमी एपोजी (पृथ्वी पर सबसे दूर वाला बिंदु) के साथ परिक्रमा कर रहा है।

जीएसएलवी एफ08

  • तीन चरणों वाले इस यान के तीसरे चरण में क्रायोजेनिक प्रणोदक लगा है।
  • यान के दूसरे स्टेज में हाई थ्रस्ट विकास इंजन है।
  • दूसरे स्टेज में ही इलेक्ट्रोमेकेनिकल एक्चुएशन (ईएमए) भी लगा है।
  • अंतरिक्ष यान की ऊंचाई 49.1 मीटर है। 

जीसैट 6ए

  • जीएसएटी-6ए इसरो द्वारा विकसित संचार उपग्रह है।
  • यह मल्टी बीम कवरेज के माध्यम से मोबाइल संचार सेवाएं प्रदान करने के लिए इसरो द्वारा निर्मित एक संचार उपग्रह है।
  • यह एस और सी बैंड ट्रांसपोंडर से लैस है।

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *