इंडिया स्मार्ट सिटी पुरस्कार 2018

  • आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय द्वारा इंडिया स्मार्ट सिटी पुरस्कार 2018 की घोषणा 20 जून, 2018 को की गई।
  • तीन वर्गों अर्थात परियोजना पुरस्कार, नवोन्मेषी विचार पुरस्कार एवं सिटी अवार्ड में 9 पुरस्कारों की इंडिया स्मार्ट सिटी पुरस्कार के तहत घोषणा की गई है, जिसे आवास एवं शहरी मामले मंत्री द्वारा 25 जून, 2017 को आरंभ किया गया था।
  • सिटी अवार्ड: परियोजनाओं के क्रियान्वयन में विशेष रूप से शहरी पर्यावरण, परिवहन एवं गंत्यात्मकता तथा टिकाऊ समेकित विकास के वर्गों में परियोजनाओं के कार्यान्वयन में तेज गति प्रदर्शित करने के लिए सूरत स्मार्ट सिटी को सिटी अवार्ड  के लिए चुना गया।
  • नवोन्मेषी विचार पुरस्कार किसी परियोजना/विचार, विशेष रूप से टिकाऊ समेकित विकास की दिशा में उनके नवोन्मेषी, बॉटम-अप एवं रूपांतरकारी दृष्टिकोण के लिए प्रदान किया जाता है। इस वर्ग में संयुक्त विजेता अपने समेकित कमान एवं नियंत्रण केन्द्र (आईसीसीसी) के लिए भोपाल तथा सुरक्षित एवं भरोसेमंद अहमदाबाद (एसएएसए) परियोजना के लिए अहमदाबाद रहे।
  • परियोजना पुरस्कार:  सात वर्गों में सर्वाधिक नवोन्मेषी एवं सफल परियोजनाओं को दिया जाता है, जो 01 अप्रैल, 2018 तक पूरी हो चुकी है। चुनी गई परियोजनाएं हैं: 
    • ‘अभिशासन’ वर्ग के तहत पुणे से पीएमसी केयर 
    • ‘निर्मित पर्यावरण’ के तहत पुणे से स्मार्ट प्लेस मेकिंग 
    • ‘सामाजिक पहलू’ वर्ग के तहत एनडीएमसी एवं जबलपुर से स्मार्ट क्लास रूम, विशाखापत्तनम से स्मार्ट कैम्पस, पुणे से लाईट हाउस
    • ‘संस्कृति एवं अर्थव्यवस्था’ वर्ग के तहत भोपाल से बी नेस्ट इन्क्यूबेशन सेंटर एवं जयपुर से राजस्थान स्कूल ऑफ आर्ट्स का संरक्षण
    • ‘शहरी पर्यावरण’ के तहत भोपाल, पुणे, कोयम्बटूर से पब्लिक बाईक शेयरिंग एवं जबलपुर में अपशिष्ट से ऊर्जा संयंत्र 
    • ‘परिवहन एवं गंत्यात्मकता’ वर्ग के तहत अहमदाबाद एवं सूरत से समेकित पारगमन प्रबंधन प्रणाली (टीएमएस) एवं 
    • ‘जल एवं स्वच्छता’ वर्ग के तहत अहमदाबाद से एससीएडीए के माध्यम से स्मार्ट वाटर मैनेजमेंट

इंडिया स्मार्ट सिटी पुरस्कार 

  • इंडिया स्मार्ट सिटी पुरस्कार शहरों, परियोजनाओं एवं नवोन्मेषी विचारों को पुरस्कृत करने, नगरों में टिकाऊ विकास को बढ़ावा देने के उद्देश्य से 25 जून, 2017 को आरंभ किया गया था। 
  • योग्य प्रतिभागियों में केवल स्मार्ट सिटी शामिल थे जहां संबंधित यूएलबी/स्मार्ट सिटी एसपीवी को प्रस्ताव पेश करना था। 
  • पुरस्कारों के तीन वर्ग हैं

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *