रामायण सर्किट के तहत जनकपुर एवं अयोध्या के बीच सीधी बस सेवा

क्याः जनकपुर-अयोध्या बस सेवा
कबः 11 मई, 2018
कहांः जानकी मंदिर, जनकपुर

  • प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी तथा नेपाल के प्रधानमंत्री श्री के. पी.शर्मा ओली ने संयुक्त रूप से 11 मई, 2018 को धार्मिक धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से रामायण सर्किट के तहत जनकपुर एवं अयोध्या के बीच सीधी बस सेवा का उद्घाटन किया। 
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने इसे ‘राम जानकी मार्ग’ की संज्ञा दी है। 
  • उपर्युक्त दोनों शहर हिंदू धर्म में पवित्र माने जाते हैं। अयोध्या को राम की जन्मभूमि जबकि जनकपुर को सीता की जन्मभूमि मानी जाती है।
  • सीधी बस सेवा का उद्घाटन जनकपुर में जानकी मंदिर के पास किया गया। इस मंदिर का निर्माण 1910 में किया गया था।
  • दोनों प्रधानमंत्रियों ने रिमोट सिस्टम से अरुण-3 जलविद्युत परियोजना का भी उद्घाटन किया।

रामायण सर्किट

  • रामायण सर्किट थीम के तहत विकास के लिए देश के 15 शहरों का चुनाव किया गया है। ये शहर हैं; अयोध्या, नंदिग्राम, श्रींग्वेरपुर एवं चित्रकूट (उत्तर प्रदेश), सीतामढ़ी, बक्सर एवं दरभंगा (बिहार), चित्रकूट (मध्य प्रदेश), महेंद्रगिरि (ओडिशा), जगदलपुर (छत्तीसगढ़), नाशिक एवं नागपुर (महाराष्ट्र), भद्राचलम (तेलंगाना), हम्पी (कर्नाटक) एवं रामेश्वर (तमिलनाडु)।

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *