विश्व जल दिवस 2018

क्याः विश्व जल दिवस
कबः 22 मार्च
कौनः यूएन वाटर

  • पूरे विश्व में 22 मार्च, 2018 को ‘विश्व जल दिवस’ मनाया जा रहा है।
  • थीमः इस वर्ष विश्व जल दिवस की थीम है ‘जल के लिए प्रकृति’ (Nature for Water) है। यह थीम इस ओर इंगित करती है कि 21वीं शताब्दी में जल संबंधी चुनौतियों से निपटने में अपनी प्रकृति का इस्तेमाल हम किस तरीके से कर सकते हैं।
  • इस वर्ष के जल दिवस की थीम यह भी बताती है कि जल संबंधी अधिकांश चुनौतियों से निपटने में प्रकृति आधारित समाधान सर्वोच्च उपाय हो सकता है। इसलिए ‘ग्रीन इन्फ्रास्ट्रक्चर’ पर अधिक बल देने तथा जहां जरूरत हो वहां ‘ग्रे इन्फ्रास्ट्रक्चर’ से समझौता करने पर की आवश्यकता बतायी गयी है।

क्या है ग्रीन इन्फ्रास्ट्रक्चर व ग्रे इन्फ्रास्ट्रक्चर?

  • ग्रीन इन्फ्रास्ट्रक्चर (Green infrastructure) से तात्पर्य पारितंत्र मूल्य के संरक्षण के लिए प्राकृतिक भूमि, कार्यकारी भू-परिदृश्य व खुली जगह के नेटवर्क का रणनीतिक उपयोग है।
  • वहीं ग्रे इन्फ्रास्ट्रक्चर (Grey infrastructure) से तात्पर्य जल संसाधन हेतु मानव अभियांत्रिकी इन्फ्रास्ट्रक्चर से है जैसे कि जल व अपशिष्ट जल शोधन संयंत्र, पाइपलाइन, कृत्रिम भंडार इत्यादि। 

जल संबंधी आंकड़ें

  • संयुक्त राष्ट्र संघ के अनुसार विश्व की 663 मिलियन आबादी बिना स्वच्छ पेयजल पहुंच के रह रही है।
  • वैश्विक स्तर पर समाज द्वारा सृजित 80 प्रतिशत ताजा जल बिना परिशाधन या पुनः उपयोग के पारितंत्र में वापस प्रभावित हो जाती है।
  • विश्व की 1.8 अरब आबादी प्रदूषित जल का इस्तेमाल करती है जो कि कई बीमारियों का कारण बनती है। 

विश्व जल दिवस की पृष्ठभूमि

  • वर्ष 1992 के रियो डी जेेनेरियो में आयोजित संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण व विकास सम्मेलन में विश्व जल दिवस को मनाने हेतु प्रस्ताव पारित हुआ और 22 मार्च, 1993 को प्रथम विश्व जल दिवस मनाने का निर्णय किया गया।
  • विश्व जल दिवस का समन्वयन ‘यूएन वाटर’ द्वारा किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *