विश्व पर्यावरण दिवस 2018 की मेजबानी भारत को

  • विश्व पर्यावरण दिवस 2018 की वैश्विक मेजबानी भारत को सौंपी गयी है। संयुक्त राष्ट्र संघ के अंडर सेक्रेटरी जनरल व संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के निदेशक एरिक सोल्हेम ने 19 फरवरी, 2018 को इसकी घोषणा की।
    भारत सरकार विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन व संवर्द्धन विभिन्न गतिविधियों एवं कार्यक्रमों के माध्यम से करेगी।
  • विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून को मनाया जाता है।

थीम

  •  विश्व पर्यावरण दिवस 2018 का थीम है, ‘प्लास्टिक प्रदूषण को पराजित करो (Beat the plastic pollution)’
  • इस वर्ष का थीम विश्व के देशों, उद्योगों, समुदायों एवं लोगों को एक साथ आकर प्लास्टिक के सतत विकल्प पर विचार करने का आह्वान करता है।

प्लास्टिक प्रदूषण पर यूएनएईपी आंकड़ें

  • प्रतिवर्ष पूरे विश्व में 500 अरब प्लास्टिक थैला का उपयोग किया जाता है।
  • प्रतिवर्ष 80 लाख टन का प्लास्टिक कचरा समुद्र में प्रवेश करता है जाो कि प्रति मिनट कचरा से भरा एक ट्रक के बराबर है।
  • विगत एक सौ वर्षों में जितना प्लास्टिक का उत्पादन किया गया है, उतना पिछले एक दशक में ही कर लिया गया।
  • 50 फीसद प्लास्टिक बैग का एकल उपयोग होता है या डिस्पोजेब्ल होते हैं।
  • प्रति मिनट 10 लाख प्लास्टिक बोतल पूरे विश्व में खरीदे जाते हैं।
  • जो भी अपशिष्ट हमारे द्वारा सृजित किये जाते हैं उनमें 10 प्रतिशत प्लास्टिक होते हैं।

विश्व पर्यावरण दिवस के बारे में

  • संयुक्त राष्ट्र संघ के तत्वावधान में पर्यावरणीय मुद्दों पर पहला बड़ा सम्मेलन 5-16 जून, 1972 को स्टॉकहॉम (स्वीडन) में आयोजित हुआ। 15 दिसंबर, 1972 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने प्रतिवर्ष 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस आयोजित करने संबंधी प्रस्ताव पारित किया।
  • चूंकि 5 जून को ही स्टॉकहोम पर्यावरण सम्मेलन आरंभ हुआ था, इसलिए इस दिवस को विश्व पर्यावरण दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया गय।
  • पहला विश्व पर्यावरण दिवस 1974 में मनाया गया था।




Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *