हिमाचल प्रदेश के सबसे पहले मेगा फूड पार्क – क्रेमिका फूड पार्क का उद्घाटन

  • केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने  10 फरवरी, 2019 को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से क्रेमिका मेगा फूड पार्क प्राइवेट लिमिटेड का उद्घाटन किया।
  • यह पार्क हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले के ग्राम सिंघान में स्थित है। यह हिमाचल प्रदेश राज्य में संचालित पहला मेगा फूड पार्क है।
  • यह पार्क हिमाचल प्रदेश में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के विकास को गति देगा। क्रेमिका मेगा फूड पार्क से ऊना जिले और आसपास के जिलों कांगड़ा, हमीरपुर और बिलासपुर के लोगों को लाभ मिलेगा।
  • यह मेगा फूड पार्क 107.34 करोड़ रुपये की लागत से 52.40 एकड़ भूमि में स्थापित किया गया है। इस मेगा फूड पार्क के सेंट्रल प्रोसेसिंग सेंटर (सीपीसी) में डेवलपर द्वारा बनाई जा रही सुविधाओं में थोक-पैकेजिंग (24 मीट्रिक टन / घंटा), फ्रोजन स्टोरेज (1000 मीट्रिक टन), डीप फ्रीज, ड्राई वेयरहाउस, क्यूसी लेबोरेटरी के साथ मल्लिी-क्रॉप पुलिंग लाइन। और अन्य खाद्य प्रसंस्करण सुविधाएं शामिल हैं।
  • पार्क में उद्यमियों और 3 पीपीसी द्वारा सोलन, मंडी, और कांगड़ा में कार्यालय और अन्य उपयोगों के लिए एक सामान्य प्रशासनिक भवन है और खेतों के पास प्राथमिक प्रसंस्करण और भंडारण के लिए सुविधाएं हैं

मेगा फूड पार्क

  • खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के मूल्य संवर्धन और आपूर्ति श्रृंखला के प्रत्येक चरण में जल्‍दी नष्‍ट होने वाले खाद्य पदार्थों की बर्बादी को कम करने के उद्देश्य से खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय ने देश में मेगा फूड पार्क योजना लागू की है।
  • मेगा फूड पार्क एक क्लस्टर आधारित दृष्टिकोण के माध्यम से खाद्य प्रसंस्करण के लिए आधुनिक आधारभूत सुविधाएं प्रदान करता है। केंद्रीय प्रसंस्करण केंद्र में सामान्य सुविधाएं और सक्षम बुनियादी ढांचे का निर्माण किया जाता है और प्राथमिक प्रसंस्करण केंद्रों (पीपीसी) और संग्रह केंद्रों (सीसी) के रूप में कृषि के पास प्राथमिक प्रसंस्करण और भंडारण की सुविधा दी जाती है।
  • मेगा फूड योजना के तहत, भारत सरकार प्रति मेगा फूड पार्क के लिए 50 करोड़ रुपये की वित्‍तीय मदद देती है।

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *