डीबीटी प्रक्रिया से जोड़ने के लिए ‘इंश्‍योर’ नामक ऑनलाइन पोर्टल लॉन्च

  • केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधामोहन सिंह ने 11 दिसंबर, 2018 को नई दिल्ली में पशुपालन डेयरी और मत्स्यपालन विभाग के अंतर्गत संचालित राष्‍ट्रीय पशुधन मिशन – ईडीईजी के इंश्‍योर पोर्टल (ENSURE- National Livestock Mission-EDEG) का शुभारम्भ किया।
  •  इस अवसर पर उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय पशुधन मिशन मोदी सरकार द्वारा पशुधन क्षेत्र के सतत विकास के उद्देश्य से डिजाइन किया गया है। इस मिशन के घटक-ईडीईजी  के अंतर्गत कुक्‍कुट, लघु रूमीनेंट्स, सुअर, इत्यादि से संबंधित गतिविधियों के लिए सब्सिडी प्रदान की जाती है, जो (प्रत्यक्ष लाभ अंतरण) डीबीटी के माध्यम से सीधे लाभार्थी के खाते में जाती है। डीबीटी के लिए लाभार्थियों की आसानी हेतु सुधार और पारदर्शिता लाने के लिए नाबार्ड द्वारा ‘इंश्‍योर’ नामक ऑनलाइन पोर्टल https://ensure.nabard.org विकसित किया है। इस पोर्टल पर लाभार्थी आवेदन की प्रक्रिया की सूचना को आसानी से प्राप्त कर सकेंगे।
  •  मिशन के अंतर्गत विभिन्न क्षेत्रों और लाभार्थियों की विभिन्न श्रेणियों के लिए सब्सिडी का अलग–अलग अनुपात तय किया गया है। वर्ष 2014 से अब तक लघु व्‍यापार/ डेयरी और पशुपालन की यूनिटों को प्रारंभ करने के लिए अनेक लाभार्थियों को 417.14 करोड़ रुपये राशि प्रदान की गई है।
  •   इस नवीन प्रक्रिया के अनुसार बैंक का नियंत्रणाधिकारी/शाखा प्रबंधक, प्रस्‍ताव की जांच पड़ताल और अनुमोदन करने के पश्‍चात् पोर्टल में सब्सिडी का दावा अपलोड करेगाजिससे अब से सब्सिडी, ऋण के अनुमोदन की तिथि से मात्र 30 दिनों के अंदर लाभार्थी के खाते में जमा हो जाएगी। पहले लाभार्थी को ऋण अनुमोदन के बाद भी लंबे समय तक सब्सिडी उसके खाते में नही पहुँच पाती थी। इस प्रक्रिया से सूचना/ निधियों का प्रवाह भी अधिक तेज और जवाबदेह हो जाएगा। साथ ही किसानों द्वारा सब्सिडी की राशि पर लंबी अवधि तक ब्याज करने के अतिरिक्त भार में भी पोर्टल आरंभ किए जाने के पश्चात् अब कमी आएगी। इसके अतिरिक्त पोर्टल से वास्तविक समय आधार पर पहुंच भी सुलभ होगी और लाभार्थियों की सूची भी आसानी से तैयार की जा सकेगी।

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *