चीन ने मरीन लिजर्ड नामक सश्‍स्‍त्र ड्रोन का प्रथम सफल परिक्षण

  • चीन ने मरीन लिजर्ड नामक सश्‍स्‍त्र ड्रोन का प्रथम सफल परिक्षण किया है, जो सेना के तीनों अंगों के लिए उपयोगी होगा। यह एम्फीबियन ड्रोन है
  • दरअसल यह दुनिया का प्रथम ड्रोन है जो दुनिया में अपनी तरह का यह पहला ड्रोन होगा, जो सेना के तीनों अंगों के साथ मिलकर काम कर सकेगा।
  • 12 मीटर लम्बा इस ड्रोन की रेंज 1200 किलोमीटर तक है जबकि गति 50 नॉट है।
  • यह ड्रोन जंग के दौरान थल सेना के साथ नभ और जल सेना लिए काम करेगा।
  • मरीन लिजर्ड का निर्माण उद्योग निगम के तहत वुचैंग शिपबिल्डिंग इंडस्‍ट्री ग्रुप ने इसे तैयार किया है।
  • समुद्री छिपकली के आकार वाले इस ड्रोन को सेटेलाइट जरिए संचालित किया जाएगा।
  • इस ड्रोन की एक बड़ी विशेषता यह है की इससे चार ट्रैक इकाइयों को एक साथ सं‍चालित किया जा सकता है। इसके साथ यह प्रति घंटे 20 किलोमीटर की रफ्तार से किसी लक्ष्‍य तक पहुंचने में सक्षम है।  

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *