पिग्मी जनजाति, नहीं हैं ‘हॉबिट’ के वंशज

Homo floresiensis’ or ‘Hobbit’ illustration by Bobin’s Peter Schouten AM (Photo Credit: abc.net)
  • इंडोनेशिया के फ्लोरेस द्वीप (Flores Island) पर रहने रहने वाले लोकप्रिय पिग्मी जनजाति के लोगों को विलुप्त ‘हॉबिट’ (hobbits) मानव का अब तक वंशज समझा जाता रहा है। किंतु नए शोध के मुताबिक वे हॉबिट के वंशज नहीं है।
  • हालांकि पिग्मी लोग उस गुफा के पास ही रहते हैं वहां से ‘होमो फ्लोरेसिएंसिस’ (Homo floresiensis) मानव के जीवाष्म प्राप्त हुए हैं जो आकार में काफी छोटे थे जिस कारण उन्हें ‘हॉबिट’ भी कहा जाता है।
  • पिग्मी आबादी के 32 लोगों के आनुवंशिक भिन्नताओं का परीक्षण किया गया। इस परीक्षण के उपरांत उनमें नीएंडरथल एवं डेनिसोवांस के लक्षण पाए गए। अर्थात वे होमो फ्लोरेसिएंसिस या होमिनिन के वंशज नहीं हैं।
  • ज्ञातव्य है कि इंडोनेशिया हजारों मानव प्रजातियों का घर है जो वहां के हजारों ज्वालामुखीय द्वीपों में बिखरे पड़े हैं।
  • होमो फ्लोरेसिएंसिस के जीवाष्म वर्ष 2003 में प्राप्त हुए थे। वे एक मीटर लंबा होते थे तथा वजन 25 किलोग्राम का होता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *