इंडोनेशिया में ज्वालामुखी जनित सुनामी से 200 से अधिक लोगों की मौत

  • इंडोनेशिया के जावा एवं सुमात्रा के बीच स्थित सूंडा जलसंधि (Sunda Strait) में 22 दिसंबर, 2018 को अनाक क्राकाटोआ ज्वालामुखी (Anak Krakatau volcano) विस्फोट से उत्पन्न सुनामी में 200 से अधिक लोगों की मौत हो गई।
  • मरने वालों में तान्जुंग लेसुंग तट (Tanjung Lesung beach resort ) पर स्थित रिसॉर्ट में प्रदर्शन करने वाला बैंड के अधिकांश सदस्य भी शामिल हैं।
  • इस सुनामी से सर्वाधिक प्रभावित पांडेग्लांग जिला हुआ। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2004 में इंडोनेशिया सबसे घातक सुनामी को झेल चुका है इसके बावजूद वहां कोई चेतावनी नहीं जारी की गई।
  • इस ज्वालामुखी जनित सुनामी से तीन माह पूर्व ही इंडोनेशिया के सुलावेसी द्वीप पर स्थित पालू में 7.4 तीव्रता के भूकंप से 2256 लोगों की मौत हो चुकी है।
  • दूसरी ओर क्राकाटोआ ज्वालामुखी विस्फोट इससे पहले भी इंडोनेशिया में कहर बरपा चुका है। 1883 में इस ज्वालामुखी विस्फोट से 36,000 लोग मारे गए थे।
  • सूंडा गर्त जावा सागर को हिंद महासागर से जोड़ता है।

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *