महात्मा गांधी अंतराष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन

  • राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने  29 सितंबर, 2018  कोनई दिल्ली में महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन (Mahatma Gandhi International Sanitation Convention ) का शुभारंभ किया।
  • इस अवसर पर राष्ट्रपति ने कहा कि 2030 तक दुनिया के कई भागों में पर्याप्त और समान स्वच्छता एवं लोगों को स्वस्थ बनाने का लक्ष्य हासिल करना खासा चुनौतीपूर्ण है।
  • पेयजल, स्वच्छता और स्वास्थ्य टिकाऊ विकास के लक्ष्य 6 विशेषकर 6.1, 6.2 और 6.3 लक्ष्यों के केंद्र में हैं। टिकाऊ विकास के लक्ष्यों के तहत लक्ष्य 6.2 के तहत देशों से खुले में शौच से मुक्ति, हर व्यक्ति को बुनियादी शौचालय उपलब्ध कराना और सुरक्षित प्रबंधन को लागू करने आदि का आह्वान किया गया है।
  • 68 भागीदार देशों के मंत्रियों और प्रतिनिधिमंडलों ने हिस्सा लिया ।
  • महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर होने वाले समारोह की शुरुआत के तौर पर अंतरराष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन का आयोजन पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है। यह स्वच्छ भारत अभियान की चौथी वर्षगांठ भी है।
  • राष्ट्रपति ने कहा कि  भारत 2 अक्टूबर, 2019 को खुले में शौच से पूरी तरह से मुक्त होने की दिशा में बढ़ रहा है। गांधीजी को 150वें जन्मदिन पर दिया जाने वाला सबसे अच्छा उपहार हो सकता है।

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *