केंद्र सरकार ने तीन नए एम्स की स्थापना को मंजूरी दी

  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 10 जनवरी, 2019 को  जम्मू कश्मीर एवं गुजरात में एम्स की तीन शाखाएं स्थापना को मंजूरी प्रदान की। ये तीन एम्स निम्नलिखित हैं :
    •  (i)विजय नगर, सांबा, जम्‍मू में 1661 करोड़ रुपये की लागत से  
    • (ii) अवंतीपुरा, पुलवामा,कश्‍मीर में 1828 करोड़ रुपये की लागत से  
    • (iii) गुजरात के राजकोट में 1195 करोड़ रुपये की लागत से  ।
  • तीनों एम्‍स प्रधानमंत्री स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा योजना (पीएमएसएसवाई) के अंतर्गत स्‍थापित किए जाएंगे। 
  •  नये एम्‍स की स्‍थापना में अस्‍पताल, मेडिकल तथा नर्सिंग पाठ्यक्रमों के लिए शिक्षण ब्‍लॉक, आवासीय परिसर और एम्‍स नई दिल्‍ली तथा पीएमएसएसवाई के चरण-1 के अंतर्गत शुरू किए गए 6 नये एम्‍स की तर्ज पर सुविधाएं/सेवाओं का सृजन शामिल है। उद्देश्‍य गुणवत्‍ता संपन्‍न उच्‍च श्रेणी की चिकित्‍सा सेवा, चिकित्‍सा शिक्षा, नर्सिंग शिक्षा तथा क्षेत्र में शोध संस्‍थान के रूप में नये एम्‍स की स्‍थापना करना है। 
  •  नये एम्‍स के निर्माण में धन पोषण पूरी तरह केंद्र सरकार द्वारा किया जाता है। नये एम्‍स के संचालन और रखरखाव खर्च पूरी तरह केंद्र सरकार द्वारा वहन किए जाएंगे।
  • नये एम्‍स की स्‍थापना से पूंजी परिसंपत्ति बनेगी इसके लिए आवश्‍यक विशेषज्ञ मानव शक्ति का सृजन 6 नये एम्‍स की तर्ज पर होगा।
  • केंद्र सरकार के मुताबिक नये एम्‍स की स्‍थापना से चिकित्‍सा शिक्षा और प्रशिक्षण में परिवर्तन होगा और क्षेत्र में स्‍वास्‍थ्‍य सेवा पेशेवरों की कमी दूर होगी। नये एम्‍स की स्‍थापना से आबादी को सुपरस्‍पेशिएलिटी स्‍वास्‍थ्‍य सेवा प्रदान करने का दोहरा उद्देश्‍य पूरा होगा इससे क्षेत्र में डॉक्‍टरों तथा अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों का एक बड़ा पूल बनेगा जो राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मिशन (एनएचएम) के अंतर्गत प्राथमिक तथा दूसरे स्‍तर के संस्‍थानों /सुविधाओं के लिए उपलब्‍ध होंगे।
  • सरकार का मानना है कि नये एम्‍स की स्‍थापना से जम्‍मू और कश्‍मीर तथा गुजरात में नये एम्‍स की  स्‍थापना से प्रत्‍येक एम्‍स में विभिन्‍न फैकल्‍टी तथा गैरफैकल्‍टी पदों के लिए लगभग 3000 लोगों को रोजगार मिलेगा। नये एम्‍स के आसपास शॉपिंग सेंटर, कैंटीन जैसी सुविधाओं के कारण अप्रत्‍येक्षरोजगार सृजन होगा।
  • नये एम्‍स का ढांचा तैयार करने के लिए निर्माण गतिविधियां चलेंगी जिससे निर्माण के चरण में रोजगार का सृजन होगा।

प्रधानमंत्री स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा योजना (पीएमएसएसवाई)

  • केंद्र की  प्रधानमंत्री स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा योजना (Pradhan Mantri Swasthya Suraksha Yojana: PMSSY) का उद्देश्‍य देश के विभिन्‍न भागों में तृतीय यानी उच्‍च स्‍तर की स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाओं की उपलब्‍धता में असंतुलन को ठीक करना और सेवा से वंचित राज्‍यों में गुणवत्‍ता संपन्‍न चिकित्‍सा शिक्षा के लिए सुविधाओं को मजबूत बनाना है।
  • जम्‍मू-कश्‍मीर में दो एम्‍स यानी जम्‍मू क्षेत्र तथा कश्‍मीर क्षेत्र के लिए एक- एक एम्‍स की घोषणा प्रधानमंत्री द्वारा 7-11-2015 को प्रधानमंत्री के विकास पैकेज के अंतर्गत की गई थी। गुजरात में एम्‍स की स्‍थापना की घोषणा वित्‍त मंत्री ने 2017-18 के लिए अपने बजट भाषण में की थी।

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *