पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रह चुके मुथुवेल करुणानिधि का निधन

  • पांच बार तमिलनाडु के मुख्यमंत्री रह चुके व डीएमके अध्यक्ष मुथुवेल करुणानिधि का 94 वर्ष की आयु में 7 अगस्त, 2018 को चेन्नई के कावेरी अस्पताल में निधन हो गया।
  • उनके निधन पर राज्य में 8 अगस्त, 2018 को सार्वजनिक अवकाश तथा सात दिनों के राजकीय शोक की घोषणा की गई। केंद्र सरकार ने भी 8 अगस्त को एक दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की।
  • ‘कलैनार’ के नाम से लोकप्रिय एम. करुणानिधि का जन्म तमिलनाडु के नागपट्टिनम जिला के थिरूक्कुवलाई गांव में हुआ था।
  • वे पहली बार वर्ष 1969 में राज्य के मुख्यमंत्री बने थे। वे तब राज्य के तीसरे मुख्यमंत्री थीं। मुख्यमंत्री के रूप में उनका अंतिम कार्यकल वर्ष 2011 में समाप्त हुआ।
  • एम. करुणानिधि तमिलनाडु के एकमात्र ऐसे मुख्यमंत्री थे जिनकी सरकार को अनुच्छेद 356 के तहत दो बार बर्खास्त कर दिया गया थाः 1976 व 1991 में।
  • वर्ष 1957 में उन्होंने पहला विधानसभा चुनाव लड़ा और तब से सभी 13 विधानसभा चुनाव जीतने का उन्होंने रिकॉर्ड स्थापित किया। वर्ष 2016 में वे अंतिम बार विधान सभा का चुनाव थिरूवरूर से लड़ा।
  • उनके राजनीतिक कॅरियर की शुरूआत 1938 में 14 वर्ष की आयु में हुई जब उन्होंने हिंदी के खिलाफ छात्रें को संगठित किया।
  • वे डीएमके पार्टी के प्रथम अध्यक्ष थे। यह पद अन्नादुरई के बाद सृजित किया गया था।
  • करुणानिधि एक संवाद व स्क्रीनप्ले लेखक, लेखक, पत्रकार, राजनेता थे। उन्होंने पार्टी का पत्र ‘मुरासोली’ की स्थापना की। संवाद लेखक व स्क्रीनप्ले लेखक के रूप में 77 से अधिक फिल्मों में किया। राजकुमारी उनकी पहली फिल्म थी जिसमें उन्होंने संवाद लेखक के रूप में हिस्सा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *