विश्व का सबसे शक्तिशाली रॉकेट ‘फाल्कन हेवी’ का प्रक्षेपण

  • अमेरिका की निजी अंतरिक्ष कंपनी ‘स्पेश-एक्स’ ने 6 फरवरी, 2018 (अमेरिकी समय) को ‘फाल्कन हेवी’ (Falcon Heavy) नामक विश्व का सबसे शत्तिशाली रॉकेट का प्रक्षेपण किया। हालांकि इसका प्रक्षेपण उतना उत्साहवर्द्धक नहीं रहा जितना सोचा गया था क्योंकि तीन कोर में से एक लक्ष्य से भटक गया।
  • इसे मंगल ग्रह के लिए प्रक्षेपित किया गया।
  • फाल्कन हेवी मेगारॉकेट को अमेरिका के फ्रलोरिडा में केन कैनवेरल स्थित केन्नेडी अंतरिक्ष सेंटर से प्रक्षेपित किया गया। इसे उसी लॉन्चपैड से प्रक्षेपित किया गया जहां से अपोलो-11 चंद्रमा राकेट प्रक्षेपित किया गया था।
  • यह एक मानव रहित मिशन है।
  • इस मिशन में एक विशिष्ट पेलोड ‘टेस्ला रोडस्टर’ नामक कार भी है जिसे मंगल ग्रह की यात्रा करेगा, साथ में इस पर एक पुतला या मैनिक्विन भी सवार है जिसे टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने ‘स्टार मैन’ नाम दिया है।
  • इस रॉकेट में 27 इंजन तथा दोबारा प्रयोग होने वाले तीन कोर भी लगे हैं जिन्हें प्रक्षेपण के पश्चात जमीन पर आना था। परंतु इनमें से एक लक्ष्य से भटक गया।
  • इस रॉकेट का थ्रस्ट 22819 किलोन्यूटन (5.13 मिलियन पाउंड) था जो कि 18 बोईंग-747 वायुयान के बराबर है।
  • यह सबसे शत्तिफ़शाली रॉकेट दो कारणों से है:
    • 27 मर्लिन इंजनों के द्वारा 5.1 मिलियन पांड का थ्रस्ट सृजन,
    • इसमें तीन फाल्कन-9 रॉकेट एक-दूसरे से जुड़े होंगे और वजन 63.8 टन है। 

स्पेश एक्स (SpaceX) के बारे में

    • दक्षिण अफ्रीकी मूल के अमेरिकी अरबपति एलन मस्क ने स्पेश-एक्स नामक अंतरिक्ष कंपनी की स्थापना 2002 में की थी।
    • इसका उद्देश्य अंतरिक्ष उड़ानों की लागत को कम करना तथा मंगल ग्रह का औपनिवेशीकरण करना है।
    • एलन मस्क इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी ‘टेस्ला’ के भी मालिक हैं।



Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *