संस्थागत प्रसव के बावजूद स्तनपान के मामले में पिछड़ा है भारत

उमाशंकर मिश्र  (Twitter handle : @usm_1984)  नई दिल्ली, 7 अगस्त  : भारत में हर साल जन्म लेने वाले 2.6 करोड़ शिशुओं में 1.50 करोड़ शिशु अपने जन्म के एक घंटे के भीतर स्तनपान नहीं कर पाते, जबकि 80 प्रतिशत महिलाएं अस्पतालों में प्रसव कराती हैं। अस्पतालों में प्रसव होने के Read More …