संस्थागत प्रसव के बावजूद स्तनपान के मामले में पिछड़ा है भारत

उमाशंकर मिश्र  (Twitter handle : @usm_1984)  नई दिल्ली, 7 अगस्त  : भारत में हर साल जन्म लेने वाले 2.6 करोड़ शिशुओं में 1.50 करोड़ शिशु अपने जन्म के एक घंटे के भीतर स्तनपान नहीं कर पाते, जबकि 80 प्रतिशत महिलाएं अस्पतालों में प्रसव कराती हैं। अस्पतालों में प्रसव होने के Read More …

स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण से 3 लाख जानें बचाई जा सकती है-विश्व स्वास्थ्य संगठन

विश्व स्वास्थ्य संगठन अपनी रिपोर्ट में ‘स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण’ (SBM-G) की प्रशंसा की है जिसके तहत अक्टूबर 2019 तक भारत को खुले में शौच से शत प्रतिशत मुक्त करने का लक्ष्य रखा गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार इस मिशन की लक्ष्य प्राप्ति से अतिसार रोग एवं प्रोटीन-ऊर्जा-कुपोषण (पीईएम) Read More …

केरल में निपाह वायरस का संक्रमण

क्याः निपाह वायरस कहांः केरल किससेः चमगादड़ राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) ने देश में tनिपाह (Nipah-NiP) वायरस का तीसरा बड़ा संक्रमण की घोषणा की। जानवरों से प्रसारित होने वाले इस संक्रमण से केरल में 22 मई, 2018 तक पांच लोगों की मौत हो गयी थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन के Read More …

विश्व के 20 सर्वााधिक प्रदूषित शहरों में भारत में 14 शहर

क्याः दिल्ली सर्वाधिक प्रदूषित मेगासिटी कौनः विश्व स्वास्थ्य संगठन किसलिएः पीएम-10 स्तर सर्वाधिक विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2016 में पीएम-2.5 स्तर के मामले में विश्व के 20 सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में 14 भारत में हैं। ये शहर हैं; दिल्ली, बनारस, कानपुर, फरीदाबाद, गया, पटना, लखनऊ, Read More …

तिहाड़ में विश्व स्वास्थ्य संगठन मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम ‘समर्थन’

क्याः समर्थन कार्यक्रम कहांः तिहाड़ जेल दिल्ली क्योंः मानसिक स्वास्थ्य दिल्ली के तिहाड़ जेल ने कैदियों मानसिक स्वास्थ्य मुद्दों के प्रति जागरूक करने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन के मनोवैज्ञानिक प्राथमिक उपचार कार्यक्रम (Psychological First Aid programme-PFA) को अपनाने का निर्णय लिया है। ‘समर्थन’ नामक इस कार्यक्रम के तहत मानसिक Read More …

डिजीज-एक्स: एक अज्ञात रोजजनक विश्व स्वास्थ्य संगठन की सूची में

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने  वर्ष 2018 की ब्लूप्रिंट प्रायोरिटी डिजीज वार्षिक समीक्षा में एक अज्ञात बीमारी जिसे ‘डिजीज-एक्स’ (Disease-X) नाम दिया गया है ‘सक्षम वैश्विक महामारी’ (Potential Global Epidemic) की सूची में शामिल किया गया है। इस सूची में पहले से ही इबोला, सार्स एवं जिका वायरस शामिल हैं। परंतु Read More …