भ्रष्टाचार सूचकांक 2017 में 81वें स्थान पर भारत  

  • बर्लिन स्थित गैर-सरकारी संगठन ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल (टीआई) ने 22 फरवरी 2018 को अपना वार्षिक ‘भ्रष्टाचार बोध सूचकांक 2017’ (Corruption Perception Index 2017) जारी किया।
  • सूचकांक के अनुसार भारत 180 देशों की सूची में 81 वें स्थान पर है। विगत वर्ष के मुकाबले भारत की रैंकिंग में दो स्थानों की गिरावट आयी है।
  • इस वर्ष भारत भारत का स्कोर 40 अंक है, जो 2016 के समान ही। अर्थात भारत के स्कोर में कोई गिरावट नहीं हुयी है परंतु रैंकिंग जरूर दो स्थान नीचे आ गयी है।
  • वर्ष 2016 में, भारत 176 देशों में 79 वें स्थान पर था।
  • कौन है सबसे स्वच्छ देशः 89 अंक के साथ, न्यूजीलैंड दुनिया का सबसे स्वच्छ राष्ट्र है, इसके बाद  88 अंकों के साथ डेनमार्क दूसरे स्थान पर है। एशियाई देशों में सिंगापुर सबसे स्वच्छ देश है।
  • सोमालिया, सबसे भ्रष्ट देशः सूचकांक ने सोमालिया को दुनिया में सबसे भ्रष्ट देश घोषित किया।
  • क्या कहती है रिपोर्टः ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के अनुसार, एशिया-प्रशांत क्षेत्र के कुछ देशों में, पत्रकारों, कार्यकर्ताओं, विपक्षी नेताओं और यहां तक कि कानून प्रवर्तन या वॉचडॉग एजेंसियों के कर्मचारियों को भी खतरा है, और तो और कई पत्रकारों की हत्या तक कर दी गई। एशिया-प्रशांत देशों में फिलीपींस, भारत और मालदीव में चिंतनीय स्थिति है।
  • सूचकांक के अनुसार विगत छह वर्षों में, एशियाई देशों में भ्रष्टाचार का खुलासा करने वाले 15 पत्रकारों की हत्या कर दी गई थी। दस में से नौ पत्रकार उन देशों में मारे गये जिनके सूचकांक में स्कोर 45 या उससे कम थे

क्या है सूचकांक? 

  • भ्रष्टाचार बोध सूचकांक विश्व के 180 देशों एवं क्षेत्रों को विशेषज्ञों एवं व्यवसायियों के अनुसार सार्वजनिक क्षेत्रक भ्रष्टाचार के स्तर की अवधारणा को इंगित करता है। 
  • इसमें विश्व के 180 देशों  को 0 से 100 स्कोर प्रदान किया जाता है जिसमें 0 सर्वाधिक भ्रष्ट का संकेतक है तो 100 स्कोर सर्वाधिक साफ-सुथरा का द्योतक है।
  • इस वर्ष के सूचकांक में दो-तिहाई से अधिक देशों के स्कोर 50 से नीचे है और औसत स्कोर 43 है।
  • वर्ष 2017 के सूचकांक में भारत का 40 स्कोर वैश्विक औसत से भी नीचे है। 

विभिन्न देशों की रैंकिंग

     रैंक       राष्ट्र            स्कोर

     1         न्यूजीलैंड    89

     2         डेनमार्क     88

     3        फिनलैंड     85

     77      चीन          41

     81      भारत        40

     117    पाकिस्तान  32

     180    सोमालिया   9

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के बारे में

  • ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल 1993 में स्थापित किया गया था।
  • इस संगठन का मुख्यालय बर्लिन, जर्मनी में है।




Written by 

One thought on “भ्रष्टाचार सूचकांक 2017 में 81वें स्थान पर भारत  ”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *