कैसे हुआ पंजाब नेशनल बैंक घोटाला?

  • सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक पहले से ही डूबे कर्ज की समस्या से जूझ रहे हैं और भारत सरकार तथा भारतीय रिजर्व बैंक बैंकों को डूबने से बचाने के लिए रकम पर रकम डाले जा रही है, वहीं बैंक है कि सुधरने का नाम नहीं ले रहा। नया मामला पंजाब नेशनल बैंक से फर्जी आशय पत्र के आधार पर विदेशों में धन निकालने से जुड़ा है और इस बार इस घोटाले की तार नीरव मोदी नामक हीरा व्यापारी से जुड़ी हुयी मिली है जिसके विज्ञापन में प्रियंका चोपड़ा जैसी फिल्मी हस्तियां दिखाई दे चुकी हैं।

क्या है मामला

  •  पंजाब नेशनल बैंक ने 14 फरवरी, 2018 को स्टॉक एक्सचेंजों की सूचना दी कि उसकी मुंबई स्थित एक शाखा में 1.77 अरब डॉलर (11,346 करोड़ रुपये) का घोटाला हुआ है। इससे पूर्व हीरा व्यापारी नीरव मोदी व उनके चाचा मेहुल चोक्सी (गीतांजली जेम्स के एमडी) के खिलाफ पीएनबी ने 29 जनवरी 2018 को 280 करोड़ रुपये की जालसाजी का आरोप लगाते हुए जांच सीबीआइ को सौंपी थी।
  • प्रवर्तन निदेशालय ने सीबीआइ की एफआइआर के आधार पर मोदी के खिलाफ  धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। नीरव मोदी की तीन कंपनियों सोलर एक्सपोर्ट्स, स्टेलर डायमंड व डायमंड आर यूएस के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

कब व कैसे हुयी शुरुआतः

  • पीएनबी के एमडी के मुताबिक वर्ष 2011 से ही फर्जी एलओयू पर फर्जीवाड़ा किया जा रहा था। दरसअल दक्षिण मुंबई स्थित शाखा के दो कर्मचारी, नीरव मोदी व अन्य ग्राहक काो फर्जी एलओयू (letters of undertaking: LoUs) दे रहे थे जिससे उन्हें विदेशों में स्थित भारतीय बैंकों की शाखाओं से नोस्ट्रो (Nostro) खाता से अनुमत क्रेडिट सीमा के बिना धन मिल जा रहा था। जनवरी 2018 में जब ये लोग ही फिर से आयात क्रेडिट प्राप्त करने के लिए पीएनबी की उस शाखा में पहुंचे तब उन्हें एलओयू देने से मना कर दिया गया और उन्हें इसके बदले कॉलेटरल के रूप में पूरी धनराशि जमा करने को कहा गया तभी उन्हें एलओयू दी जाती। लेकिन कंपनी के प्रतिनिधि पूर्व में दिये गये एलओयू को दिखाया जिसके आधार पर दूसरे देशों में कर्ज हासिल करते थे। परंतु बैंक के खाते में कहीं भी ट्रांजेक्शन का उल्लेख ही नहीं था।
  • बाद में पता चला कि बैंक के दो जूनियर कर्मचारियों ने स्विफ्ट (SWIFT) इंटरबैंक मैसेजिंग सिस्टम पर एलओयू जारी किया था और इसका उल्लेख उन्होंने बैंक के ट्रांजेक्शन के रूप में कभी शामिल नहीं किया। 

सरकार का उत्तर 

  • वित्त मंत्रालय के बैंकिंग विभाग में संयुक्त सचिव के मुताबिक, यह एक बड़ा मामला नहीं है और ऐसी स्थिति नहीं है जिसे कहा जाए कि हालात काबू में नहीं है। लेकिन सरकार इस बात से चिंतित है कि इसके तार कुछ दूसरे सार्वजनिक बैंकों से भी जुड़े हुए हैं। 

क्या होता है   एलओयू या आशय पत्र?

  • एलओयू (letters of undertaking: LoUs) एक बैंक शाखा की ओर से दूसरे बैंक शाखा को जारी एक ऐसा प्रपत्र है जो निश्चित खाताधारकों के पक्ष में दी गई एक गारंटी होती है। इसके आधार पर दूसरे जगह की बैंक शाखा उस ग्राहक को कर्ज की सुविधा देती है। मौजूदा मामला में पीएनबी के भर्जी एलओयू के सहारे एक्सिस बैंक व इलाहाबाद की समुद्रपारीय बैंक शाखाओं ने ग्राहक को धन उपलब्ध कराये। 





क्या होता है  स्विफ्ट (SWIFT)?

  • स्विफ्ट (Society for Worldwide Interbank Financial Telecommunications: SWIFT ) एक प्रकार का वैश्विक मैसेजिंग कोड है जिसके द्वारा वित्तीय सूचनाएं व निर्देश दिये जाते हैं।

क्या होता है नोस्ट्रो अकाउंट?

  • किसी बैंक का दूसरे समुद्रपारीय बैंकों में खाता नोस्ट्रो खाता कहलाता है।

कौन हैं नीरव मोदी

  • हीरा व्यापारी नीरव मोदी भारत में जन्में व बेल्जियम के एंटबर्प में पले-पढ़े हैं।
  • वे फोर्ब्स के अरबपतियों की सूची में भी शामिल रहे हैं।
  • वर्ष 2010 में क्रिस्टि ऑक्शन कैटेलॉग के आवरण पृष्ठ पर दिखने वाले वे प्रथम भारतीय बने थे।



Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *