प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना ने एक करोड़ का कीर्तिमान स्थापित किया

  • रोजगार सृजन के लिए सरकार की महत्वपूर्ण योजना प्रधानमंत्री रोजगार प्रोत्साहन योजना (Pradhan Mantri Rozgar Protsahan Yojana: PMRPY) से 14 जनवरी, 2019 तक एक करोड़ से अधिक लोगों को लाभ पहुंचा है। इस तरह इस योजना ने कीर्तिमान स्थापित किया है।
  • पीएमआरपीवाई की घोषणा 07 अगस्त, 2016 को की गई थी और उसे कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के जरिए श्रम एवं रोजगार मंत्रालय लागू कर रहा है।
  • योजना के तहत सरकार नियोक्ता के योगदान का पूरा 12 प्रतिशत का भुगतान कर रही है। इसमें कर्मचारी भविष्य निधि और कर्मचारी पेंशन योजना, दोनों शामिल हैं।
  • सरकार का यह योगदान उन नए कर्मचारियों के संबंध में तीन वर्षों के लिए है, जिन्हें ईपीएफओ में 01 अप्रैल, 2016 को या उसके बाद पंजीकृत किया गया हो तथा जिनका मासिक वेतन 15 हजार रुपये तक है।
  • उल्लेखनीय है कि 2016-17, 2017-18 और 2018-19 (15 जनवरी, 2019 तक) के दौरान क्रमशः 33,031;  33,27,612 और 69,49,436 लाभार्थियों ने पीएमआरपीवाई के तहत ईपीएफओ में पंजीकरण कराया है।
  • योजना के कार्यान्वयन के दौरान लाभांवित होने वाले प्रतिष्ठानों की संख्या 1.24 लाख है।
  • यह पूरी प्रणाली ऑनलाइन और ‘आधार’ के जरिए चलाई जा रही है।   

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *