इसरो ने ‘युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम’ (युविका) कार्यक्रम शुरू किया

  • भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने इस वर्ष से स्कूली बच्चों के लिए “युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम”  (युविका-YUva VIgyani KAryakram) नामक एक विशेष कार्यक्रम शुरू किया है।
  • इस कार्यक्रम का उद्देश्य मुख्य रूप से अंतरिक्ष कार्यकलापों के उभरते क्षेत्रों में अपनी रुचि जगाने के इरादे से युवाओं को अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष विज्ञान और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों पर बुनियादी ज्ञान प्रदान करना है।
  • इसरो ने इस कार्यक्रम को “उन्हें कम उम्र में ही ज्ञान प्रदान करने” के लिए चुना है। आवासीय प्रशिक्षण कार्यक्रम गर्मियों की छुट्टियों के दौरान लगभग दो सप्ताह की अवधि का होगा और प्रत्येक वर्ष इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए प्रत्येक राज्य / केंद्र शासित प्रदेश से 3 छात्रों का चयन करना प्रस्तावित है, जो सीबीएसई, आईसीएसई और राज्य पाठ्यक्रम को कवर करते हैं। जो छात्र 8 वीं कक्षा पूरी कर चुके हैं और वर्तमान में 9 वीं कक्षा में पढ़ रहे हैं, वे कार्यक्रम के लिए पात्र होंगे।
  • इसरो ने भारत में संबंधित राज्यों के मुख्य सचिवों / केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासकों से संपर्क किया है ताकि वे अपने प्रत्येक राज्य / केंद्रशासित प्रदेश से तीन छात्रों के चयन की व्यवस्था कर सकें और इसरो को सूची के बारे में बता सकें।
  • यह चयन शैक्षणिक प्रदर्शन और पाठ्येतर गतिविधियों पर आधारित है, जो स्पष्ट रूप से चयन मानदंड में वर्णित है जिन्हें राज्यों के मुख्य सचिवों / संघ शासित प्रदेशों के प्रशासकों को पहले से ही परिचालित कर दिया गया हैं। ग्रामीण क्षेत्र से संबंधित छात्रों को चयन मानदंडों में विशेष भारांक दिया गया है। मार्च 2019 के अंत तक प्रत्येक राज्य से चयनित उम्मीदवारों की सूची अपेक्षित है।

Written by 

One thought on “इसरो ने ‘युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम’ (युविका) कार्यक्रम शुरू किया”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *