निएंडरथल ने किया था प्राचीनतम गुफा चित्रकारी का निर्माण  

  • साइंस पत्रिका में प्रकाशित एक शोध आलेख के अनुसार स्पेन में आधुनिक मानव होमोसेपिएंश से भी पहले के उनके रिश्तेदार यानी निएंडरथल द्वारा बनायी गुफा चित्रकारी खोजी गयीं हैं। 
  • इसका मतलब यह है कि विश्व की सबसे प्राचीन गुफा चित्रकारी नीएंडरथल की देन है न कि होमोसेपिएंश की।
  • इससे पहले तक गुफा चित्रकारी का प्राचीनतम प्रमाण आज से 40,000 वर्ष पहले का था जो इंडोनेसिया के सुलावासी द्वीप में 1950 में खोजा गया था और जिसके काल की पुष्टि 2013 में जाकर हुयी थी। इसके अलावा स्पेन में भी 40,800 वर्ष पुरानी गुफा चित्रकारी के प्रमाण प्राप्त हुये थे।  
  • हाल में जिस 64,800 वर्ष पहले की चित्रकारी खोजी गयी है वह स्पेन के ला पासीगा, माल्ट्राविसो और अर्दालेस स्थानों में मिले हैं। यहां से गुफा चित्रें के 60 नमूने काल निर्धारण के हेतु लिए गये।। उनका यूरेनियम-थोरियम नामक अत्याधुनिक तिथि निर्धारण तकनीक से जांच करने पर उनके बनने का समय पता लगाया।
  • यह चित्रकारी आज से 64800 वर्ष पहले की है। यूरोप में आधुनिक मानव होमोसेपिएंस लगभग 44000 वर्ष पहले अफ्रीका से आये थे। हामोसेपिएशंस को सभ्य मानव माना जाता रहा है.
  • इससे यह भी पता चलता है कि नीएंडरथल के पास सांकेतिक प्रतीकों  को समझने की क्षमता थी जो कि मानव संस्कृति का केंद्रीय स्तंभ है। 
  • साउथेंप्टन युनिवर्सिटी के प्रोफेसर व शोध के सह-नेतृत्वकत्ता एलिस्टर पाइक के अनुसार चित्रकारी ऐसी चीज है जो मानवीय गतिविधि से जुड़ी हुयी है। और यदि नीएंडरथल भी ऐसा कर रहे थे तो फिर वे हमारे जैसा ही होंगे। 

मानव विकास व निएंडरथल

  • एक सिद्धांत के अनुसार नीएंडरथल, डेनिसोवांस व अन्य सभी आधुनिक मानव होमो हिडेलबर्जेंसिस (Homo heidelbergensis) नामक आदि मानव के वंशज हैं।
  • आज से पांच लाख से छह लाख वर्ष पूर्व होमो हिडेलबर्जेंसिस एक समूह अफ्रीका छोड़कर बाहर निकला। यह दो समूहों में बंट गया। पहला समूह उत्तर-पश्चिम की ओर पश्चिम एशिया व यूरोप में चला गया जो नीएंडरथल कहलाया।
  • वहीं एक अन्य समूह पूर्व की ओर चला गया जो डेनिसोवांस (Denisovans.) कहलाया। 
  • आज से ढ़ाई लाख वर्ष पहले होमो हिडेलबर्जेंसिस अफ्रीका में होमोसेपिएंस (Homo sapiens) बन गये थे। ये फिर 700000 वर्ष पहले अफ्रीका से बाहर निकलकर यूरेशिया की ओर उन्मुख हुये जहां इनका सामना नीएंडरथल से हुआ और इनका मिश्रण हुआ।
  • यही कारण है कि अफ्रीका के बाहर जो भी यूरोपीयन व एशियाई हैं उनमें दो प्रतिशत अंश नीएंडरथल का है जबकि अफ्रीका के मूलवासियों में नीएंडरथल का कोई भी अंश नहीं है। 



Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *