लेखिका और उपन्‍यासकार कृष्‍णा सोबती का निधन

  • हिन्‍दी की प्रसिद्ध लेखिका और उपन्‍यासकार कृष्‍णा सोबती का 25 जनवरी, 2019 को निधन हो गया। वे 93 वर्ष की थीं।
  •  ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्‍मानित कृष्णा सोबती का जन्‍म 18 फरवरी 1924 को चिनाब नदी के किनारे स्थित छोटे से पहाड़ी कस्बे सोबत में हुआ था।
  • वर्ष 1980 में उन्हें उपन्यास ‘जिंदगी नामा’ के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार से अलंकृत किया गया।
  • उन्हें 1996 में अकादमी के उच्चतम सम्मान ‘साहित्य अकादमी फैलोशिप’ से नवाजा गया।
  • इसके अलावा कृष्णा सोबती को पद्मभूषण, व्यास सम्माऩ, शलाका सम्मान से भी सम्‍मानित किया जा चुका है।
  • कृष्णा सोबती की कालजयी कृतियों में ‘सूरजमुखी अंधेरे के’, ‘दिलोदानिश, ‘ऐ लड़की’, ‘समय सरगम’, ‘मित्रो मरजानी’, ‘जैनी मेहरबान सिंह’, ‘हम हशमत’, ‘बादलों के घेरे’ और ‘डार से बिछुड़ी’ शामिल हैं।  

Written by 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *